Breaking News

यूपी में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 30,983 नये मामले तो 36,650 मरीज हुए संक्रमणमुक्त

Related News


 
 
लखनऊ, 02 मई 2021 (आईपीएन)। उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश में बड़ी संख्या में टेस्टिंग कार्य करते हुए, टेस्टिंग क्षमता निरन्तर बढ़ायी जा रही है। गत एक दिन में कुल 2,97,021 सैम्पल की जांच की गयी, जो कि अब तक का सर्वाधिक टेस्ट है, जिसमें से 01 लाख 28 हजार से अधिक आरटीपीसीआर में माध्यम से जांच की गई। प्रदेश में अब तक कुल 4,13,62,046 सैम्पल की जांच की गयी है। विभिन्न जनपदों द्वारा गत दिवस 97,122 सैम्पल आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए भेजे गए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमित 30,983 नये मामले आये हैं तथा 36,650 मरीज संक्रमणमुक्त हुए हैं। इस प्रकार अब तक कुल 10,04,447 से अधिक लोग कोविड संक्रमण से मुक्त हो चुके हैं। प्रदेश में कुल कोरोना के एक्टिव मामलों में से 2,41,305 व्यक्ति होम आइसोलेशन में हैं। 
लोकभवन में पत्रकारों से बातचीत में श्री प्रसाद ने बताया कि सर्विलांस की कार्यवाही निरन्तर चल रही है। प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 2,47,170 क्षेत्रों में 5,87,642 टीम दिवस के माध्यम से 3,39,85,062 घरों के 16,39,79,240 जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है। अब तक 1,03,54,904 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज दी गई तथा पहली डोज वाले लोगों में से 23,74,880 लोगों को वैक्सीन की दूसरी डोज दी गई। इस प्रकार कुल 1,27,29,784 वैक्सीन की डोज लगायी जा चुकी है। 
श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में कल 01 मई, 2021 से 18 से 44 वर्ष वाले लोगों के साथ-साथ 45 वर्ष से अधिक आयु वालों का वैक्सीनेशन चल रहा है। जिसमें लोग बढ़-चढ़कर अपना टीकाकरण करा करे है। उन्होंने बताया कि 18 से 44 वर्ष वाले लोग सॉफ्टवेयर के माध्यम से वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण करा सकते हैं। सिर्फ सॉफ्टवेयर के माध्यम से पंजीकरण करने वाले 18 से 44 वर्ष वाले लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। अभी फिलहाल यह सिर्फ 07 जनपदों में 18-44 वर्ष के लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है। शीघ्र ही अन्य जनपदों में सॉफ्टवेयर के माध्यम से 18 से 44 वर्ष वाले लोगों का वैक्सीनेशन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि कोविड वैक्सीन लगाने के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन करे। 
श्री प्रसाद ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा 04 मई से 08 मई तक ग्रीमाण क्षेत्रों में फ्रंटलाइन कर्मियों द्वारा घर-घर जाकर कोविड लक्षण वाले लोगों से सम्पर्क किया जायेगा तथा उन्हें मेडिसिन किट भी उपलब्ध करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि कोविड के लक्षण होने पर अपनी जांच अवश्य करायें इसके अतिरिक्त लक्षण होने पर होम आइसोलेशन के लिए दी जा रही मेडिसिन भी अवश्य खायें। उन्होंने बताया कि होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को दवाइयों का पैकेट उपलब्ध कराया जा रहा है। दवाइयों का पैकेट उपलब्ध न होने पर होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीज कोविड कमाण्ड सेण्टर में फोन करके अपनी दवाइयों का पैकेट मंगा सकते हैं। जो लोग होम आइसोलेशन में हैं अगर वे डाक्टर की सलाह लेना चाहते हैं तो, वे 18001805146, 18001805145 इस हेल्पलाइन पर सम्पर्क कर सकते हैं। 
श्री प्रसाद ने लोगों से अपील है कि मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करे, सैनेटाइजर व साबुन से हाथ धोते रहे। भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। लोगों के प्रयासों एवं जागरूकता से संक्रमण दर में कमी आयी है। उन्होंने बताया कि संक्रमण अभी समाप्त नहीं हुआ है इसलिए विशेष सावधानी बरतने की आवश्यकता है। टीकाकरण के बाद भी कोविड प्रोटोकॉल का पालन अवश्य करें।

Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.