Breaking News

उ.प्र. में बीते 24 घंटो में 994 मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन की हुई आपूर्ति


 

लखनऊ, 08 मई 2021 (आईपीएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर प्रदेश में ऑक्सीजन की सप्लाई और अधिक बढ़ाये जाने के लिए व्यापक स्तर पर कार्यवाही की गयी है। बीते 24 घंटे में रिकार्ड 994.83 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति प्रदेश भर में की गयी है। इसके अलावा सेल्फ प्रोडक्शन के तहत एयर सेपरेटर्स यूनिट्स के माध्यम से 78.46 मीट्रिक टन ऑक्सीजन आपूर्ति की गयी है।
अपर मुख्य सचिव, गृह, अवनीश कुमार अवस्थी ने बीते 24 घंटे में प्रदेश भर में हुई ऑक्सीजन की सप्लाई का विस्तृत विवरण देते हुए बताया कि 586.58 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति रिफीलर्स को खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा की गयी है। साथ ही शासन के प्रयासो के फलस्वरूप 318.36 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की सप्लाई प्रदेश के मेडिकल कालेजां व चिकित्सा संस्थानों को तथा 89.89 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की आपूर्ति ऑक्सीजन सप्लायर्स द्वारा सीधे निजी चिकित्सालयों को की गई है। इस प्रकार कुल 994.83 मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन की सप्लाई बीते 24 घंटे में प्रदेश भर के सरकारी व निजी अस्पतालों में की गयी है।
श्री अवस्थी ने बताया कि जीवन रक्षक ट्रेन द्वारा जमशेदपुर से 10 ऑक्सीजन टैंकर कुल 80 मीट्रिक टन क्षमता के आज प्रातः 11 बजे लखनऊ पहुॅचाया गया है। इसी प्रकार कानपुर के लिये 6 टैंकर लगभग 48 मीट्रिक टन क्षमता के उपलब्ध कराये गये है।
डीआरडीओ लखनऊ के अस्पताल के लिए भी पर्याप्त ऑक्सीजन की व्यवस्था सुनिश्चित की गयी है। साथ ही डीआरडीओ वाराणसी अस्पताल के लिये भी ऑक्सीजन की समुचित व्यवस्था की गयी है। कानपुर के लिये कल 80 मीट्रिक टन ऑक्सीजन एक विशेष रेल के माध्यम से पहॅुचाये जाने की व्यवस्था की गयी है। नोएडा, गाजियाबाद, मेरठ के लिये जामनगर गुजरात से 80 मीट्रिक टन के टैंकर भरकर ऑक्सीजन आज रात्रि/कल प्रातः तक उपलब्ध कराये जाने की व्यवस्था की गयी है।
उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश में ऑक्सीजन की मांग को तत्परता से पूरा करने के उद्देश्य से गृह विभाग में बने एक विशेष कन्ट्रोल रूम के माध्यम से ऑक्सीजन आपूर्ति व्यवस्था की ऑनलाइन मानीटरिंग की जा रही है। इस कन्ट्रोल रूम में गृह विभाग, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, चिकित्सा शिक्षा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी व कर्मचारी लगातार 24 घंटे परस्पर समन्वय बनाकर कार्य कर रहे है।

Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.