Breaking News

AKHILESH ने योगी सरकार पर बोला हमला, बोले: योगी सरकार का नारा विकास का है लेकिन सब काम विनाश के हैं


लखनऊ, 01 दिसम्बर 2023 (आईपीएन)। उत्तर प्रदेश विधानसभा के शीतकालीन सत्र के अन्तिम दिन शुक्रवार को सदन में अखिलेश यादव ने अनुपूरक बजट पर यूपी सरकार पर हमला बोलने का एक भी मौका नहीं छोड़ा. सपा प्रमुख ने राज्य की स्वास्थ्य सुविधाओं पर बोलते हुए अनुपूरक बजट पर सवाल उठाया. उन्होंने कहा कि जब सरकार खर्च नहीं कर पा रही है पैसा तो आखिरकार सप्लीमेंट्री बजट क्यों? लगभग 63 प्रतिशत पैसा खर्च नहीं हुआ है, सबसे महत्वपूर्ण विभाग पीडब्ल्यूडी है उसमें अभी भी 65 परसेंट पैसा पड़ा हुआ है. खर्च नहीं हुआ. अखिलेश ने आरोप लगाते हुए कहा कि इस सरकार का दोहरा चरित्र है. डींग मारने में यह सरकार सबसे आगे है. सरकार ने स्मार्ट सिटी का सपना दिखाया था. क्या इस सप्लीमेंट्री बजट में स्मार्ट सिटी का कहीं स्थान है? मुझे तो यह लगता है कि 5 साल का वह कार्यकाल और लगभग 2 साल पूरे होने जा रहे हैं, यह सरकार खुद महसूस कर गई है कि अब वो स्मार्ट सिटी नहीं बन सकती. अखिलेश ने कहा कि जब मुख्य बजट से डेवलपमेंट नहीं हुआ तो यह सप्लीमेंट्री बजट से कौन सा डेवलपमेंट हो जाएगा? जब आपके बजट की तुलना होती और प्रदेशों से तो 18वां स्थान है आपका. यह आंकड़े हम विपक्ष के लोगों के नहीं है. अखिलेश ने कहा कि यूपी की योगी सरकार का नारा विकास का है लेकिन सब काम विनाश के हैं.


स्वास्थ्य के मामले में यूपी 19वें स्थान पर: अखिलेश 
अखिलेश ने आरोप लगाया कि इस सरकार में स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम नहीं हो रहा है. स्वास्थ्य के मामले में यूपी 19वें स्थान पर है. सरकार चाहती है निजी अस्पतालों में इलाज हो. सरकार चाहती ही नहीं कि लोग सरकारी अस्पताल जाएं. इस सरकार ने कोई भी एक जिला अस्पताल नहीं बनाया, जिसमें गरीबों को पूरा इलाज मिल जाए. ना नया बनाया ना पुराने अस्पतालों में सुधार किया. उसका परिणाम यह है कि गरीब को मजबूरी में प्राइवेट अस्पताल में जाना पड़ रहा है.


सरकार हिस्टोरिकल लूट कर रही: अखिलेश 
सपा प्रमुख यहीं नहीं रुके. उन्होंने आगे कहा, ष्सड़कों में गड्ढे हैं गड्ढों में सड़क है, सरकार हिस्टोरिकल लूट कर रही है. पीडब्ल्यूडी विभाग में मंत्री के बनने के बाद तुरंत खेल हो गया सरकार की नजर पड़ गई तो थोड़ा बहुत बचा होगा. सरकार बताए कि आप मेंटेनेंस और गड्ढा मुक्ति के लिए कितना पैसा खर्च कर रहे हैं. उन्होंने आगे कहा कि जो सरकारी कहती थीं कि समाजवादी सरकार में बनाया गया एक्सप्रेसवे घाटे का है. आज नेता सदन बताएं कि उनके पूर्वांचल और बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे घाटे का है कि फायदे का है. आज भी इतने वर्षों के बाद अगर सबसे अच्छी राइडिंग क्वालिटी किसी एक्सप्रेसवे की है तो वह समाजवादियों का बनाया गया एक्सप्रेसवे है. वहीं महंगाई का मुद्दा उठाते हुए अखिलेश ने कहा कि घोड़ा समझ लेता है घुड़सवार कैसा है. अधिकारी भी समझ गए हैं कि सरकार कैसी है इसलिए आपके कंट्रोल में नहीं है चीज़ें. कहां पहुंच गई है महंगाई, आखिरकार इसका मुनाफा कहां जा रहा है? किसकी जेब में जा रहा है?
अखिलेश ने भ्रष्टाचार को लेकर भी यूपी सरकार पर जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि गोवंश भूखे मर रहे हैं क्योंकि गौशालाओं के नाम पर योगी सरकार में सिर्फ भ्रष्टाचार हो रहा है, केवल लूट हो रही है. इसको चलाने वाले लोग भाजपा से जुड़े लोग हैं और अधिकारी मिलकर चारा पानी तक खा पी जा रहे हैं. बाजारों में सांड, सड़कों पर सांड, खेतों में सांड, किसान की कितनी जान जा चुकी है.


जातीय जनगणना का उठाया मुद्दा
अखिलेश ने इस दौरान जातीय जनगणना का मुद्दा भी उठाया. उन्होंने कहाकि पूरा देश चाहता है कि जातीय जनगणना हो. अंततोगत्वा यह बीजेपी के लोग भी जातीय जनगणना में खड़े हो जाएंगे देखिएगा यह समय आएगा कि बीजेपी के लोग भी कहेंगे कि जातीय जनगणना होनी चाहिए.

Related News

Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.