Breaking News

यूपी में अब सफाई मित्रों को मिलेगी 10 लाख रु0 तक की दुर्घटना बीमा सुविधा, CM ने किया शुभारम्भ


गोरखपुर, 28 जनवरी 2024 (आईपीएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को जनपद गोरखपुर में आयोजित सफाई मित्र सुरक्षा एवं सम्मान सम्मेलन में विभिन्न विकास कार्यों से सम्बन्धित 116 करोड़ रुपये लागत की 176 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने सफाई मित्रों हेतु ई-सेवा पोर्टल, 10 लाख रुपये तक की दुर्घटना बीमा सुविधा एवं कल्याण कोष का शुभारम्भ किया। मुख्यमंत्री ने 3400 सफाई मित्रों एवं वाहन चालकों को यूनिफॉर्म एवं टिफिन प्रदान किया। उन्होंने मृतक आश्रितों को सफाई मित्र कल्याण कोष से एक-एक लाख रुपये का प्रतीकात्मक चेक प्रदान किया। इसके पश्चात उन्होंने डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन हेतु स्वच्छता वाहनों एवं जे0सी0बी0 को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।
मुख्यमंत्री ने 500 वर्षों की प्रतीक्षा के पश्चात अयोध्या नगरी में भगवान श्रीरामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जनपदवासियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज सभी को स्वच्छ व सुन्दर गोरखपुर में रहने का अवसर मिल रहा है। गोरखपुर की स्वच्छता रैंकिंग में सुधार हुआ है। सफाई के वाहक इन स्वच्छता कर्मियों में ही स्वच्छता की आत्मा निहित है, इसलिए इनका सम्मान और सुरक्षा अति आवश्यक है। इनकी सुरक्षा व सम्मान के लिए इन्हें बीमा कवर प्रदान करने के साथ-साथ इनके हितार्थ अन्य कार्य किये जा रहे हैं। स्वच्छता कर्मी के दुर्घटनाग्रस्त होने पर बीमा का लाभ दिया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शासन द्वारा यह सुनिश्चित किया जा रहा है कि प्रदेश के सभी स्वच्छता कर्मियों को न्यूनतम मानदेय की गारण्टी प्रत्येक दशा में प्राप्त हो, जिससे वह अपने परिवार का सम्मान के साथ पालन पोषण कर सके। शासन द्वारा एक कमेटी का गठन किया गया है, जिसकी रिपोर्ट के अनुसार जल्द ही प्रदेश के सभी सफाई कर्मियों को अच्छा मानदेय दिलाने का ठोस कार्य किया जायेगा। आज यहां 116 करोड़ रुपये लागत की विकास परियोजनाओं की सौगात भी मिल रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि वास्तव में जिस कार्य पर सबसे ज्यादा ध्यान दिया जाना चाहिए था, वह पहले उपेक्षित था। जिस प्रकार स्वच्छता के बिना घर की सुन्दरता की कोई कीमत नहीं होती है, उसी प्रकार स्वच्छता के अभाव में शहर की सुन्दरता में वृद्धि के लिए की गई सारी मेहनत बेकार हो जाती है। शासन का यह प्रयास है कि स्वच्छता कर्मियों को आवासीय सुविधा का भी लाभ मिले। स्वच्छताकर्मियों को सफाई मंे प्रयुक्त मशीनों का प्रशिक्षण देकर पारंगत करना चाहिए। शासन द्वारा प्रत्येक स्वच्छता कर्मी को स्वास्थ्य बीमा, राशन, गैस कनेक्शन एवं अन्य बुनियादी सुविधाओं का लाभ सुनिश्चित करने का प्रयास किया जा रहा है। नगर निगम गोरखपुर ने भी आज इसी दिशा में पहल की है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसद रवि किशन शुक्ल अभिनय के साथ ही शहर की सूरत बदलने के लिए सभी जनप्रतिनिधियों के साथ इस दिशा में कार्य रहे हैं। सफाई कर्मी भी जब प्रतिबद्धता के साथ कार्य करता है, तो शहर स्वच्छ व सुन्दर दिखता है। स्वच्छता कर्मियों की मेहनत के कारण ही आज गोरखपुर स्वच्छ व साफ है। जनपद की स्वच्छता रैंकिंग भी अच्छी हुई है। नगर निगम ने आज यहां सफाई मित्रों की सुरक्षा व सम्मान का कार्यक्रम शुरु किया, जो एक अच्छी पहल है। आज गोरखपुर स्वच्छ व सुन्दर है, तो इसका सबसे बड़ा श्रेय इन स्वच्छता कर्मियों को है। सभी जनप्रतिनिधिगण एवं जनता का भी इसमें बड़ा योगदान है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें स्वच्छता के प्रति जनता को और अधिक जागरूक करना होगा। सभी पार्षदों से अनुरोध है कि वे प्रत्येक मोहल्ले में एक स्वच्छता समिति का गठन करंे एवं प्रत्येक माह उसकी बैठक करें। लोग नालियों एवं सड़क पर कूड़ा न फेंके तथा सफाई कर्मियों के साथ कोई दुर्व्यहार न करंे। अगर हम सभी इन चीजांे पर ध्यान देंगे तो गोरखपुर स्वच्छ व सुन्दर दिखाई देगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वच्छता कर्मियों द्वारा सफाई एवं नागरिक भागीदारी के कारण ही भारत सरकार ने गोरखपुर को गार्बेज फ्री सिटी रैकिगं में 3 स्टार रैकिंग प्रदान की है। गोरखपुर नगर निगम स्वच्छता सर्वेक्षण में इस वर्ष 74वें स्थान से 22वंे स्थान पर आ गया है। इस दिशा में यदि हम और अधिक मेहनत करेंगे, तो गोरखपुर आगामी वर्षों में टॉप टेन/टॉप थ्री में अपनी जगह बनाएगा। हम सबको इसके लिए कार्य करना होगा। गोरखपुर में 500 टन क्षमता के वेस्ट चारकोल प्लान्ट के निर्माण का कार्य चल रहा है। सिंगल यूज प्लास्टिक के खिलाफ भी अभियान चलाया गया। खाली पड़े प्लॉटों में कचरे के निस्तारण के लिए तेजी से कार्य किया जा रहा है। हमें इस दिशा में और तेजी से कार्य करना होगा।
मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि आज गोरखपुर देश के अच्छे शहरों में गिना जा रहा है। यह प्रत्येक गोरखपुर निवासी के लिए खुशी की बात है। अपने शहर की प्रशंसा सुनकर सभी को प्रसन्नता होती है। यह सारे परिर्वतन स्वच्छता के कारण ही हुए हैं। आज गोरखपुर एक अच्छी दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसको और अच्छा बनाने के लिए सभी नागरिक अपना योगदान दें। गोरखपुर को स्वच्छ, सुन्दर व विकसित बनाने के लिए नगर निगम गोरखपुर की इस पहल में सबको भागीदार बनना चाहिए।
कार्यक्रम में नगर निगम गोरखपुर द्वारा सफाई मित्रों के लिए किए गए कार्यों, स्वच्छता में योगदान एवं सॉलिड वेस्ट मैनेजमेन्ट में किए जा रहे नवाचारों पर डॉक्यूमेन्ट्री फिल्म का प्रदर्शन किया गया।
इसके पूर्व, मुख्यमंत्री ने महिलाओं की गोदभराई तथा बच्चों का अन्नप्राशन कराया।
कार्यक्रम को सांसद रवि किशन शुक्ल तथा गोरखपुर के महापौर डॉ0 मंगलेश श्रीवास्तव ने भी सम्बोधित किया।

Related News

Leave a Comment

Previous Comments

Loading.....

No Previous Comments found.